स्विट्जरलैण्ड की संघीय सरकार - शक्ति और कार्य

B. A. II, Political Science II

प्रश्न 13. स्विट्जरलैण्ड की संघीय सरकार के संगठन तथा शक्तियों का वर्णन कीजिए।

अथवा '' स्विट्जरलैण्ड की संघीय सरकार की रचना और उसके कार्यों का वर्णन कीजिए।

उत्तर- स्विट्जरलैण्ड की संघीय सरकार

स्विट्जरलैण्ड में राष्ट्रपति का पद नहीं है और वहाँ के कैण्टनों में राज्यपाल का पद भी नहीं होता। 1848 ई. में लागू किए गए संविधान में कार्यकारिणी शक्ति 'संघीय परिषद्' नामक एक बहुल कार्यपालिका में निहित होती थी, जिसका नाम अब 'संघीय सरकार' कर दिया गया है।

संघीय सरकार की रचना स्विस राज्यमण्डल की सर्वोच्च निर्देशन तथा कार्यपालिका शक्ति 7 सदस्यों की एक संघीय सरकार द्वारा प्रयुक्त की जाती है। संघीय संसद के दोनों सदन अपने संयुक्त अधिवेशन में संघीय सरकार के सदस्यों का चुनाव करते हैं। संघीय सरकार के सदस्य निर्वाचित होते ही वे संघीय संसद की सदस्यता से त्याग-पत्र दे देते हैं । संघीय सरकार के सदस्य न तो कैण्टन के अधीन कोई पद धारण कर सकते हैं और न ही उन्हें किसी प्रकार का व्यवसाय करने की अनुमति है।

स्विट्जरलैण्ड की संघीय सरकार

कार्यकाल

स्विस संघीय सरकार का कार्यकाल 4 वर्ष निश्चित किया गया है, किन्तु इसके साथ ही यह प्रतिनिधि सभा के कार्यकाल पर निर्भर करता है । यदि 4 वर्ष की अवधि से पूर्व मृत्यु, त्याग-पत्र या अन्य किसी कारण से संघीय सरकार का कोई स्थान रिक्त हो जाए तो संघीय संसद अपने अधिवेशन में शेष अवधि के लिए किसी नये सदस्य का चुनाव कर सकती है। संघीय सरकार के सदस्यों के पुनर्निर्वाचन पर कोई प्रतिबन्ध नहीं है।

वेतन, विशेषाधिकार तथा उन्मुक्तियाँ-

स्विस संघीय सरकार के सदस्यों का वेतन संघीय संसद के द्वारा निर्धारित किया जाता है। 55 वर्ष या इससे अधिक आयु के व्यक्तियों को यदि वे 10 वर्ष तक संघीय सरकार के सदस्य रह चुके हैं, तो उन्हें पेंशन दी जाती है, जो वेतन के 40% से 60% के बीच होती है। सामान्य रूप से संघीय सरकार के सदस्य उन उन्मुक्तियों (Immunities) का उपभोग करते हैं जिनका उपभोग संघीय संसद के सदस्य करते हैं।

अपने कार्यकाल के दौरान संघीय सरकार के सदस्य सैनिक सेवा से मुक्त रहते हैं और उनके विरुद्ध कोई मुकदमा नहीं चलाया जा सकता। यदि संघीय सरकार अपनी ही इच्छा से अपना यह विशेषाधिकार समाप्त कर दे,तो उनके बिरुद्ध फौजदारी का मुकदमा चलाया जा सकता है।

 

अध्यक्ष तथा उपाध्यक्ष

 संघीय संसद के दोनों सदन अपनी एक संयुका बैठक में संघीय सरकार के सदस्यों में से ही एक अध्यक्ष तथा एक उपाध्यक्ष के एक वर्ष के लिए चुनाव करते हैं । संघीय सरकार का अध्यक्ष ही स्विस राज्यमण्डल का राष्ट्रपति कहलाता है। किन्तु अधिकार व सुविधा की दृष्टि से अध्यक्ष पद का कोई विशेष महत्व नहीं है। यद्यपि कोई भी व्यक्ति लगातार दो वर्ष के लिए अध्यक्ष "नहीं चुना जा सकता है, तथापि वही व्यक्ति एक या अधिक वर्ष के अन्तराल के! पश्चात् पुनः अध्यक्ष पद पर निर्वाचित हो सकता है। अध्यक्ष तथा उपाध्यक्ष के चुनाव में 'वरिष्ठता के सिद्धान्त' का पालन किया जाता है और प्रयास किया जाता है कि क्रम से सभी सदस्यों को अध्यक्ष या उपाध्यक्ष का पद प्राप्त हो जाए।

स्विस संघीय सरकार की शक्तियाँ और कार्य

प्रशासकीय शक्तियों के अतिरिक्त स्विस संघीय सरकार को कुछ महत्त्वपूर्ण विधायी, वित्तीय और न्यायिक शक्तियाँ भी प्राप्त हैं, जिनका विवरण निम्न प्रकार है

(1) कार्यपालिका शक्तियाँ-

संघीय सरकार स्विस राज्यमण्डल की सर्वोच्च कार्यपालिका सत्ता है और इस क्षेत्र में उसकी शक्तियाँ निश्चित रूप से बहुत व्यापक हैं।

संघीय सरकार स्विस संविधान के उपबन्धों, संघीय संसद द्वारा निर्मित | कानूनों, अध्यादेशों, विदेशों के साथ की गई सन्धियों और संघीय सर्वोच्च न्यायालय के निर्णयों को कार्यरूप प्रदान करती है।

संघीय सरकार का अध्यक्ष (राष्ट्रपति) सम्पूर्ण देश का आधिकारिक प्रवक्ता होता है। वह राजदूतों तथा राजनयिक प्रतिनिधियों की नियुक्ति करता है। संघीय सरकार के प्रतिनिधि के रूप में राष्ट्रपति विदेशी राजदूतों तथा राजनयिक प्रतिनिधियों का स्वागत करता है।

बाह्य आक्रमण से स्विट्जरलैण्ड की स्वतन्त्रता और तटस्थता की रक्षा तथा आन्तरिक क्षेत्र में शान्ति और व्यवस्था बनाए रखना संघीय सरकार का उत्तरदायित्व है और संघीय सरकार इसके लिए सभी आवश्यक कदम उठा सकती है।

संघीय सरकार को सेना पर नियन्त्रण की शक्ति भी प्राप्त है। आपात स्थिति में अथवा यदि संघीय संसद का अधिवेशन न हो रहा हो और सुरक्षा की दृष्टि से कोई कार्य करना आवश्यक हो, तो सरकार सेना को स्विस सीमाओं की सुरक्षा करने की आज्ञा दे सकती है। लेकिन यदि 3 सप्ताह से अधिक की अवधि के लिए अथवा 4,000 से अधिक सैनिकों का प्रयोग करना हो, तो इस पर संघीय संसद की स्वीकृति आवश्यक होती है।

स्विट्जरलैण्ड के वैदेशिक सम्बन्धों के संचालन का उत्तरदायित्व संघीय सरकार पर है। यह विदेशों से सन्धियाँ करेगी तथा उन्हें स्वीकृति के लिए संघीय संसद के समक्ष प्रस्तुत करेगी। संघीय सरकार ही विदेशों से की गई सन्धियों को क्रियान्वित करती है।

(2) विधायी शक्तियाँ-

संघीय सरकार को विधायी क्षेत्र में भी महत्त्वपूर्ण शक्तियाँ प्राप्त हैं। यद्यपि संघीय सरकार के सदस्य संघीय संसद के सदस्य नहीं हो सकते, तथापि वे उनकी बैठकों में उपस्थित होते हैं और मत देने के अतिरिक्त अन्य सभी कार्यों में भाग लेते हैं। संघीय सरकार स्वेच्छा से विधानमण्डल के सम्मुख विधेयक प्रस्तुत कर सकती है और संघीय संसद भी संघीय सरकार से किसी विशेष विषय पर विधेयक प्रस्तुत करने के लिए कह सकती है। 

संघीय सरकार को संविधान संशोधन सम्बन्धी विधेयक प्रस्तावित करने का भी अधिकार प्राप्त है । संघीय संसद के दोनों सदनों में साधारण सदस्यों द्वारा जितने भी विधेयक प्रस्तावित किए जाते हैं, उन्हें सबसे पहले संघीय सरकार के सदस्यों के पास विचार-विमर्श के लिए भेजा जाता है, उसके बाद ही संघीय संसद उन पर विचार करती है। संघीय सरकार के सदस्य किसी विषय पर यह प्रस्ताव भी कर सकते हैं कि उस पर लोक निर्णय कराया जाए। 

संघीय सरकार के सदस्य संघीय संसद की समितियों के विचार-विमर्श में भी भाग लेकर कानून-निर्माण के कार्य को प्रभावित करते हैं। इनके अतिरिक्त संघीय सरकार को अध्यादेश जारी करने तथा प्रदत्त व्यवस्थापन के अन्तर्गत कानूनों को लागू करते हुए नियम बनाने का अधिकार भी प्राप्त है।

संघीय सरकार के विधायी कार्यों के सम्बन्ध में रैपार्ड ने लिखा है, “वस्तुतः और संवैधानिक धारणा के नितान्त विपरीत संघीय सरकार कार्यपालिका और प्रशासनिक कार्यों के साथ-साथ महत्त्वपूर्ण विधायी कार्य भी करती है।"

(3) वितीय शक्तियाँ-

वित्तीय क्षेत्र में भी स्विस संघीय सरकार को महत्त्वपूर्ण शक्तियाँ प्राप्त हैं। स्विट्जरलैण्ड के वित्तीय प्रशासन का संचालन संघीय सरकार के द्वारा ही किया जाता है। यह संघीय बजट तैयार करती है तथा उसे संघीय संसद के समक्ष स्वीकृति के लिए प्रस्तुत करती है। यह संघीय सरकार के आय-व्यय का ब्यौरा संघीय संसद को देती है। यह राजस्व तथा करों को एकत्रित करती है और संघीय संसद द्वारा स्वीकृत व्यय की निगरानी भी करती है।

(4) राज्यमण्डल और कैण्टनों के मध्य सम्बन्धों का संचालन-

संघीय सरकार कैण्टनों के प्रशासन पर भी नियन्त्रण रखती है। यह कैण्टनों के संविधानों की क्रियान्विति की जाँच करती है एवं उनके संशोधन मर स्वीकृति देती है। यह कैण्टनों के वित्तीय, सैनिक तथा प्रशासनिक कार्यों का निरीक्षण करती है। कैण्टनों को कुछ कानूनों तथा अपने निर्णयों को लागू करने के लिए संघीय सरकार की अनुमति लेना आवश्यक है।

(5) संकटकालीन शक्तियाँ-

स्विस संविधान (1848 ई) ने पूर्व कार्यपालिका संस्था संघीय परिषद् को संकटकालीन शक्तियाँ प्रदान नहीं की थीं किन्तु जब कभी देश में आन्तरिक अथवा बाह्य परिस्थितियों के कारण संकट उत्पन्न हुआ, तो संघीय सभा ने संघीय परिषद् को पूर्ण अधिकार दे दिए । वर्तमान संविधान भी संघीय सरकार को संकटकालीन शक्तियाँ प्रदान नहीं करता, लेकिन पूर्ववर्ती इतिहास और व्यावहारिक परिस्थितियों को दृष्टिगत रखते हुए यह सम्भावना है कि संघीय सरकार विशेष परिस्थितियों में संकटकालीन शक्तियों का प्रयोग करेगी।

संक्षेप में, स्विस संघीय सरकार को व्यापक तथा महत्त्वपूर्ण शक्तियाँ प्राप्त हैं। लॉवेल के अनुसार, “संघीय परिषद् (वर्तमान में संघीय सरकार) को राष्ट्रीय सरकार रूपी घड़ी की बड़ी कमानी कहा जा सकता है और यह निश्चित रूप में राष्ट्रीय शासन का सन्तुलन चक्र है।"

 

Comments